Follow by Email

Saturday, March 18, 2017

हमारी priorities

अगर इस देश से दस सालों के लिए किसान गायब हो जाएँ तो अधिक से अधिक क्या होगा? हम रोटी चावल नहीं खा पाएंगे। शायद भूखे मर भी जाएँ। वैसे भी शरीर मरता है; आत्मा थोड़े न मरती है।
लेकिन अगर इस देश से दस साल के लिए क्रिकेटर और फिल्म वाले गायब हो जाएँ तो कितना घोर अनर्थ हो जाएगा। हमारा पूरी तरह से मनोरंजन नहीं हो पाएगा। ज़िंदगी में कितनी बोरियत हो जाएगी। टीवी पर आने वाले इश्तेहारों में हमें कौन बोलेगा कि कोका कोला पियो! हम यह नहीं जान पाएंगे कि किसका किससे अफेयर चल रहा है और ब्रेक-अप होने के बाद यूरोप में दिल हल्का करने कौन गया है। हमें पता नहीं चल पाएगा कि किस स्टार का बेटा खुद स्टार बनाने के लायक हो गया है। हम यह भी नहीं जान पाएंगे कि किसका वन-डे में कितना स्कोर है, और कौन किसका रेकॉर्ड तोड़ने वाला है।
इसीलिए साल भर में हज़ार किसान ख़ुदकुशी कर लें तो हम उसकी तरफ ध्यान भी नहीं देना चाहते। लेकिन फिल्म या क्रिकेट से जुड़ा आदमी एक ट्वीट कर दे तो हड़कंप मच जाता है। हम पढे-लिखे, technology-friendly और समझदार लोग अच्छी तरह जानते हैं कौन सी चीज को कितनी अहमियत देनी है। हमारी बात ही निराली है।

No comments: